जयपुर, कश्मीर में लोगों द्वारा सेना और पुलिस पर की जाने वाली पत्थरबाजी से गुस्साए लोगों ने अब अन्य राज्यों में पढ़ने वाले छात्रों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। राजस्थान के चितौड़गढ़ में कुछ छात्रों पर हमला केवल इसलिए किया गया क्योंकि वो कश्मीर से ताल्लुक रखते है। पूरा मामला चितौड़गढ़ जिले के गंगरार इलाके का है जहां बुधवार की शाम कुछ अज्ञात लोगों ने छह कश्मीरी छात्रों के साथ मारपीट कर दी। गंगरार क्षेत्र के एसएचओ के मुताबिक मेवाड़ विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले छह छात्र घरेलू सामान खरीदने के लिए बाजार आए थे। इसी दौरान कुछ अज्ञात लोगों ने उनसे पहले नाम-पता पूछा और फिर उनके साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया। छात्रों की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मारपीट के बाद यूनिवर्सिटी में तनाव का माहौल

घटना के बाद से मेवाड़ यूनिवर्सिटी कैंपस में तनाव का माहौल बना हुआ है। कश्मीरी छात्रों ने बताया कि बुधवार को विश्वविद्यालय में करीब 250 कश्मीरी विद्यार्थियों ने विरोध प्रदर्शन किया और कइयों ने विरोधस्वरूप रात का खाना भी नहीं खाया। हालांकि, विश्वविद्यालय प्रशासन ने ऐसे किसी भी तरह के विरोध प्रदर्शन से इनकार किया है। आपको बता दें कि मेवाड़ विश्वविद्यालय में जम्मू कश्मीर के करीब आठ सौ अधिक छात्र पढ़ाई कर रहे हैं।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इस मामले में क्या कहा

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अपने राज्य में रहने वाले कश्मीरियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा है। गौरतलब है कि बुधवार को राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में कश्मीरी छात्रों पर हुए कथित हमले के बाद राजनाथ सिंह ने यह बात कही है। गृहमंत्री ने कहा कि उन्हें कल रात इस बारे में जानकारी मिली कि भारत के एक दो हिस्सों में कश्मीरी युवाओं के साथ लोगों ने बदसलूकी की है। रिपोर्ट के मुताबिक उत्तरप्रदेश और राजस्थान में कश्मीरी छात्रों को प्रताड़ित किया गया है।