जोहानसबर्ग, भारतीय महिला हॉकी टीम को सोमवार को अर्जेंटीना से महिला हॉकी विश्व लीग सेमीफाइनल के अपने आखिरी ग्रुप मैच में 0-3 से शर्मनाक पराजय का सामना करना पड़ा है। अजेंटीना की ओर से रोशियो सांचेस (दूसरा मिनट), मारिया ग्रानाटो (14वां )और नोएल बिरियोनुएवो (25वां मिनट) ने गोल किए। वहीं भारतीय टीम एक भी गोल नहीं कर सकी। भारत अब मंगलवार को क्वार्टरफाइनल में इंग्लैंड का सामना करेगा।

विश्व की तीसरे नंबर की टीम अर्जेंटीना ने शुरूआत से ही आक्रमण करते हुए गोल स्कोर करने के प्रयास किए और दूसरे ही मिनट में सफलता हासिल कर ली और रोसियो सांचेस ने अपनी टीम को 1-0 से बढ़त दिला दी। भारतीय गोलकीपर सविता को विपक्षी खिलाडिय़ों ने काफी व्यस्त रखा। सांचेस ने अपने दूसरे ही शॉट पर यह गोल किया जबकि सविता ने उनके पहले प्रयास को डाइव करते हुए बचा लिया था, लेकिन वह सांचेज के दूसरे प्रयास को रोक नहीं सकीं।

14वें मिनट में अर्जेंटीना की मारिया ग्रानाटो ने अर्जेंटीना के लिए दूसरा गोल करते हुए स्कोर 2-0 कर भारत पर दबाव बढ़ा दिया। 25वें मिनट में सुशीला फाउल कर बैठीं जिससे अर्जेंटीना को पेनल्टी कॉर्नर मिल गया। नोएल बिरियोनुएवो ने इस मौके को भुनाते हुए गोल दागा और स्कोर 3-0 करते हुए भारत को पस्त कर दिया। अजेंटीना को 34वें मिनट में लगातार पेनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन भारतीय गोलकीपर रजनी ई ने उसे बचा लिया। हाफ टाइम के बाद सविता की जगह रजनी ने गोलकीपिंग का जिम्मा संभाला था। आखिरी क्वार्टर में भारतीय डिफेंडरों ने अजेंटीना को कोई गोल नहीं करने दिया।