जयपुर, जिले के प्रभारी मंत्री एवं गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने शुक्रवार को जयपुर जिले की आमेर पंचायत समिति के तहत मानपुरा माचेड़ी के आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) पर विकसित कन्या उपवन में पौधारोपण किया। कन्या उपवन योजना में इस आदर्श पीएचसी पर बेटियों के जन्म पर पौधे लगाए जाएंगे। जिले में अन्य स्वास्थ्य केन्द्रों पर भी बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के संदेश को बुलंद करने के लिए ऎसे कन्या उपवन विकसित किए जा रहे हैं। कटारिया ने आदर्श पीएचसी का निरीक्षण करते हुए वहां मरीजों के लिए उपलब्ध सुविधाओं और मुफ्त दवा वितरण व्यवस्था आदि का जायजा भी लिया। प्रभारी मंत्री कटारिया के साथ जिला प्रमुख मूलचंद मीना, पंचायत समिति के प्रधान सीताराम शर्मा, जिला कलक्टर सिद्धार्थ महाजन, जिला परिषद के सीईओ आलोक रंजन एवं सतीश पूनिया ने भी कन्या उपवन में पौधारोपण किया। कन्या उपवन में पौधारोपण के दौरान प्रभारी मंत्री ने नन्हीं बालिकाओं मीनाक्षी, गुड़िया, अक्षिता और पूनम आदि से संवाद किया और उनके साथ फोटो खिंचवाते हुए उनकी हौसला अफजाई की।

एमजेएसए के कार्यों को देखा

जिला प्रभारी मंत्री ने इससे पहले आमेर पंचायत समिति के कांट व बिलौंची का दौरा करते हुए विभिन्न विकास कार्यों का निरीक्षण किया। कटारिया ने कांट में मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तहत बने एनीकट, फील्ड बडिंग स्ट्रक्चर मय वेस्टवियर तथा मिनी परकोलेशन टैंक के कार्यों का निरीक्षण किया। इसके बाद बिलौंची में मुख्यमंत्री बजट घोषणा के तहत निर्माणाधीन आंगनबाड़ी केन्द्र को देखा और इसके बारे में अधिकारियों से फीडबैक प्राप्त किया।

अन्नपूर्णा भंडार का निरीक्षण

कटारिया इसके बाद बिलौंची में अन्नपूर्णा भंडार का निरीक्षण करने पहुंचे और वहां उन्होंने ग्रामीणों को उपलब्ध कराए जा रहे उत्पादों एवं पोस मशीन के माध्यम से राशन सामग्री के वितरण की प्रक्रिया की जानकारी लीं। अन्नपूर्णा भंडार के संचालक शंकरलाल ने बताया कि वह 1998 से राशन की दुकान का संचालन कर रहा है तथा गत एक वर्ष से अन्नपूर्णा भंडार चला रहा है। अन्नपूर्णा भंडार के तहत 150 प्रकार के उच्च गुणवत्तापूर्ण उत्पाद उपलब्ध कराए जा रहे है। उसने बताया कि पोस मशीन के द्वारा राशन सामग्री के वितरण से ग्रामीण उपभोक्ता अब अधिक संतुष्ट है।

स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों को सराहा

प्रभारी मंत्री ने बिलौंची में ही स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीणों में घरों में निर्मित व्यक्तिगत शौचालय के कार्यों का निरीक्षण किया। खुले में शौच के अभिशाप से अपने परिवारजनों को मुक्त कर अपने घरों में स्वच्छ भारत मिशन में शौचालयों के निर्माण की पहल करने वाले रामपाल दरिया और मदनलाल रैगर के घर पहुंचकर कटारिया ने उनसे मुलकात की और शौचालयों का निर्माण करने के लिए उनकी पीठ थपथपाई। प्रभारी मंत्री ने उनसे पूछा कि शौचालयों के निर्माण के लिए उनको सहायता राशि मिली कि नहीं? इस पर दोनो ने बताया कि उन्हें सहायता राशि मिल गई है और इसके अलावा अपनी ओर से अतिरिक्त राशि खर्च कर उन्होंने शौचालय बनवाए हैं और परिवार के सदस्य इनका इस्तेमाल करते हैं और अब कोई खुले में शौच के लिए नहीं जाता। इस पर प्रभारी मंत्री, जिला प्रमुख, जिला कलक्टर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने उनकी सराहना की। जिला प्रभारी मंत्री के दौरे के दौरान उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी सहित जनप्रतिनिधिगण और अन्य अधिकारी मौजूद रहे।