दक्षिण कोरिया, दक्षिण कोरिया और चीन में पिछले कुछ समय से रिश्ते तनावपूर्ण बने हुए हैं। अब चीन को इन बिगड़े रिश्तों को फिर से दोस्ती की मजबूती से सहेजना चाहते हैं। हाल ही में अमेरिका द्वारा कोरियाई प्रायद्वीप में मिसाइल रोधी प्रणाली तैनात किए जाने को लेकर दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था। इसके बाद अब चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने दक्षिण कोरिया के दूत से कहा कि वह दक्षिण कोरिया के साथ रिश्तों को 'पटरी' पर लाने के इच्छुक हैं।

पिछले हफ्ते चुनाव जीतने के बाद रिश्ते सुधारने के लिए दक्षिण कोरिया के नए राष्ट्रपति मून जे-इन ने अपने दूत के रूप में ली हाई-चान को चीन भेजा है। चान पर दारोमदार रहेगा कि वह दोनों के बीच जारी खटास को अपनी समझबूझ से दूर करे। बीजिंग में ली से मुलाकात के बाद शी ने कहा, ''हम कड़ी मेहनत से हासिल किए गए नतीजों को सहेजने, विवादों को सही तरीके से निबटाने और चीन-दक्षिण कोरिया रिश्तों को फिर से पटरी पर लाने  की दिशा में काम करने के इच्छुक हैं।'' शी ने कहा, ''द्विपक्षीय रिश्तों से जुड़े अहम मुद्दों पर बातचीत बढ़ाने की दिशा में चीन का आपका दौरा...यह दर्शाता है कि राष्ट्रपति मून और उनके प्रशासन ने हमारे संबंधों को बेहद महत्व दिया है।''