धौलपुर, अधिवक्ता अधिनियम संशोधन बिल 2017 के विरोध में आज अधिवक्ताओं ने कार्य बहिष्कार किया। अधिवक्ताओं ने कोर्ट परिसर में विरोध जुलूस निकाल कर नारेबाजी की और संशोधित बिल की प्रतियां जलाई। अभिभाषक संघ के अध्यक्ष हरीशंकर मुद्गल ने बताया कि बिल में किसी भी अभिभाषक संघ या बार कौंसिल से विचार विमर्श या रायशुमारी नहीं की गई है। विधि आयोग की ओर से अधिवक्ता अधिनियम संशोधन बिल 2017 तैयार किया गया है वह अधिवक्ताओं के लिए काले कानून के समान है, जिसका नुकसान पैरोकारों को भी भुगतना पड़ेगा। न्याय व्यवस्था में इस प्रकार का बिल असंवैधानिक है और ये पूरी तरह से अधिवक्ताओं के अधिकारों पर कुठाराघात है। इसके विरोध में आज सभी अधिवक्ताओं ने कार्य बहिष्कार कर विरोध जताया।